तेरे इंतज़ार मे !

आवारा 

दिल में जगे एहसास नए,
तुझसे मिलने के आस मे ,
कब होगी मुलाकात प्रिये ,
खोया हूँ इस सवाल मे, 
हाल-ए-दिल मुश्किल किए,
तेरे इंतज़ार मे , तेरे इंतज़ार मे !
अनकही बातें कहने के लिए,
बिन मौसम बरसात मे,
गम के जाम कितने पिए,
प्यार के इस इकरार मे,
अधूरे अरमान दिल मे जिए,
तेरे इंतज़ार मे , तेरे इंतज़ार मे !
टूटी उम्मीदें फिर लौट आये,
तुझसे मिलने की राह मे,
हारी बाजी भी जीत लाए,
तेरे आने के विश्वास मे ,
उभर रहे है जज़्बात नए,
तेरे इंतज़ार मे , तेरे इंतज़ार मे !

Leave a comment